समाजसेवी समाजसेवी मान सिंह रावत
 

देहरादून(जगमोहन आज़ाद)। समाजसेवी समाजसेवी मान सिंह रावत के निधन पर हर ओर शोक की लहर हैं। एक ओर जंहा माता मंगला एवं भोले महाराज ने रावत के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया तो वहीं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने भी अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए इसे उत्तराखंड की अपूर्णीय छति बताया। सीएम ने सभी परिजनों के प्रति गहरी संवेदना भी वयक्त की।

खास खबर—उत्तराखंड के इन दो आईएस अधिकारीयों को गर्वनेंस में मिला गोल्ड और सिल्वर

वयोवद्व गांधीवादी और सर्वोदयी नेता मान सिंह रावत के निधन के बाद उनके प्रति संवेदना व्यक्त करने वालो में माता मंगला एवं भोले महाराज ने अपने शोक संदेश में कहा है कि सामाजिक पटल सेवा के मार्ग पर चलने वाले समाजसेवी मान सिंह रावत के देहांत की खबर सुन मन बहुत उदास है। हम इस दुखद समय में मान सिंह रावत जी के परिवार के साथ खड़े हैं। मान सिंह का सामाजिक परिदृश्य हम सबके लिए प्रेरक था। जिससे कुछ न कुछ सीखते हुए हम समाज निर्माण की दिशा में आगे बढ़े। मान सिंह रावत अमर है, क्योंकि वे अपने कामों से जाने जाते है और कार्य कभी मरते नहीं वे समाज में प्रेरणा के श्रोत रहते है ।

वह तीन दशक पहले नयारघाटी में महिलाओं के उत्थान के लिए बाल-बाड़ी के संस्थापक और हमेशा नशामुक्ति के लिए जनांदोलन करने वाले उत्तराखंड के गांधीवादी सर्वोदय नेता थे। समाजसेवा के लिए जीवन समर्पित करने वाले तथा जमनालाल बजाज पुरस्कार, उमेश डोभाल ट्रस्ट के अलावा कही संस्थाओं से समानित ग्राम कैंडूल निवासी स्वर्गीय मानसिंह रावत जी को विन्रम श्रद्धांजलि परमात्मा उनकी दिवंगत आत्मा को अपनो चरणों में स्थान दे।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *