संत रविदास जयंती पर ढ़ोल नगाड़ो के निकाली शोभायात्रा
 

सुल्तानपुर(नाथीराम कश्यप)। खानपुर-ब्रहमपुर गांव में संत रविदास जयंती बड़ी धूमधाम से मनाई गई। इस दौरान ग्रामीणों ने ढोल नगाडो के साथ शोभायात्रा भी निकाली। संत रविदास जयंती हिन्दू कैलेंडर के अनुसार माघ महीने की पूर्णिमा पर मनाई जाती है। इस वर्ष उनका 642 वां जन्मदिवस मनाया जा रहा है।

खास खबर—देशी तमंचे के साथ पुलिस ने युवक को धरा,करने आया ये काम

मंगलवार को खानपुर-ब्राह्मपुर गांव के ग्रामीणों ने संत रविदास जयंती बड़ी धूमधाम से मनाई। इस दौरान सुबह के समय सैकड़ों ग्रामीणों ने संत रविदास मंदिर में पूजा-अर्चना करते हुए विशाल भंडारा किया। इसके बाद ग्रामीणों ने ढोल- नगाड़ों के साथ रविदास मंदिर से शोभायात्रा का शुभारंभ किया। जो खानपुर-ब्रह्मपुर गांव के बीच से होते हुए वापस रविदास मंदिर पर ही आकर शोभायात्रा का समापन हुआ। इस दौरान लोगों ने लाठियां चलाकर शक्ति प्रदर्शन भी किया। खानपुर-ब्रह्मपुर गांव में यह शोभायात्रा पुलिस की मौजूदगी में शांतिपूर्वक निकाली गई।

संबधित खबर—रविदास जयंती पर तैयारीयां हुई पूरी, हरिद्वार पुलिस ने भी कसी अपनी कमर

इस दिन किया जाता है पवित्र नदी में स्नान

संत रविदास जयंती पर उनके अनुयायी पवित्र नदियों में स्नान करते हैं। उसके बाद अपने गुरु के जीवन से जुड़ी महान घटनाओं को याद कर उनसे प्रेरणा लेते हैं। संत रविदास के जीवन के कई ऐसे प्रेरक प्रसंग है जिनसे हम सुखी जीवन के सूत्र सीख सकते हैं। ये दिन उनके अनुयाइयों के लिए वार्षिक उत्सव की तरह होता है। उनके जन्म स्थान पर लाखों भक्त पहुंचते हैं और वहां बड़ा कार्यक्रम होता है। जहां संत रविदास जी के दोहे गाए जाते हैं और भजन-किर्तन भी होता है।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *