देखें ​विड़ियो-पुलवामा शहीदों को कांग्रेसी नेताओं ने नोट उड़ाकर दी श्रद्धांजलि

देखें ​विड़ियो-पुलवामा शहीदों को कांग्रेसी नेताओं ने नोट उड़ाकर दी श्रद्धांजलि

हरिद्वार(अरुण शर्मा)।पुलवामा शहीदों को कांग्रेस के नेताओं के श्रद्धांजलि देने की जो तस्वीर सामने आ रही है उसने पूरे देश को शर्मसार कर दिया हैं। मामला हरिद्वार के रुड़की का हैं जंहा पर शहीदों को श्रद्धांजलि देने का कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें कांग्रेसियों द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री के बेटे वीरेंद्र रावत,कांग्रेस किसान मोर्चा अध्यक्ष सुशील राठी समेत कांग्रेस के बड़े नेताओं व कव्वालों के ऊपर नोटों की बारिश की गई साथ ही साथ शहीदों को श्रद्धांजलि के नाम पर शुरुआत करके शराब तक के गाने कवालों द्वारा गाये गए।

आप भी देखें विडियों में किस तरह नोट उड़ाये जा रहे हैं…..

खास खबर—पुलवामा में उत्तराखंड के शहीद सैनिकों के बच्चों की हंस फाउंडेशन कुछ इस तरह करेगा मदद

देश में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद आज भी लोगों गमों में डूबे हैं शहीदों जवानों के परिजनों के आंखों से आंसू अभी तक भी नहीं सूखे होंगे लेकिन देश में राजनीति करने वाले लोगों को इस पर भी राजनीति करने में गुरेज नहीं कर रहे हैं….बता दें कि रुड़की में एक निजी होटल में कॉंग्रेस पार्टी द्वारा शहीदों को श्रद्धांजलि देने का कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें कांग्रेसियों द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री के बेटे वीरेंद्र रावत,कांग्रेस किसान मोर्चा अध्यक्ष सुशील राठी समेत कांग्रेस के बड़े नेताओं व कव्वालों के ऊपर नोटों की बारिश की गई साथ ही साथ शहीदों को श्रद्धांजलि के नाम पर शुरुआत करके शराब तक के गाने कवालों द्वारा गाये गए जिस पर मदमस्त होकर कांग्रेसी भी झूमते नजर आए । साथ ही साथ कव्वालों पर नोट उड़ाते हुए ठुमके भी लगाने शुरू कर दिए।

हरदा ने झाड़ा अपना पल्ला
रूड़की में जब कांग्रेस द्वारा शहीदों के अपमान की करने की बात पूर्व सीएम और कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत से पूछी गई तो उन्होंने इस बात से पल्लड़ा झांड कर मामले को संज्ञान में ना होने की बात कही।

देहरादून में भी हुआ विरोध

वहीं देहरादून में कांग्रेस विधायक और नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्लदयेश जब शहीद मेजर विभूति ढौंढियाल के परिजनों से मिलने पहुंचे तो उनके समर्थक शहीद के परिजनों को सांत्वना कम और फोटो खींचवाने और वीडियो बनने में ज्यादा दिलचस्पी ले रहे थे जिस पर परिजनों का गुस्सा फूट पड़ा। उन्होंने न केवल इन लोगों बल्कि नेता प्रतिपक्ष को भी खूब खरी-खरी सुनाई। यही नहीं ।

admin