लॉकडाउन में लोग कुछ इस तरह मदद के लिए आ रहे है आगे

लॉकडाउन में लोग कुछ इस तरह मदद के लिए आ रहे है आगे

हरिद्वार(कमल खड़का)। लॉकडाउन मैं अपने अपने क्षेत्र में तरह तरह से मदद कर रहे है इसी दौरान भीमगोडा गुसाई गली के समाज सेवी बादल गोस्वामी ने भी 14 दिनों से लगातार सुबह चाय व दोनों टाइम 400 500 लोगो को खाना खिलाने का काम कर रहे हैं

समाजसेवी बादल गोस्वामी व सुमित तिवारी ने बताया कि पहले ही दिन असहाय लोगो को आटा चावल तेल दिये गए थे।
खास खबर—लॉकडाउन में पढ़ने के शोकिन लोगों के लिए इस मोबाइल कंपनी ने दिया एक ओर बड़ा तोहफा

और अब खाना खिलाने लग गए हैं उन्होंने बताया कि ऐसा नहीं है कि अगर लॉकडाउन ओर बढ़ता है तो अभियान लगातार चलाया जाएगा ताकि गरीब परिवार को भूखा नही सोने दिया जायेगा

उन्होंने यह भी कहा कि हरकी पैड़ी, भीमगोडा, दूधाधारी चौक जुग्गी झोपड़ियों मैं जाकर उनको उनके पास जाकर ही दिया जाता है जिससे सोशल डिस्टेंसिंग का भी ख्याल विशेष प्रकार से रखा जा रहा है इस अभियान में डॉ समीर, आशीष शर्मा, मधुकांत गिरी,आशीष गोस्वामी, कमल खड़का,वीर गिरी, सोनू चौहान,

डीजीपी की सख्ती का हुआ असर

डीजीपी अनिल रतूड़ी का चेतावनी भरा वीडियो जारी होने के बाद मुकदमे के डर से लोग खुद ही नजदीक के थाने-कोतवाली पहुंचे और पुलिस को विदेश और दूसरे प्रदेशों से लौटने की जानकारी दी। इनमें करीब 150 लोग ऐसे हैं, जो निजामुद्दीन मरकज के समानांतर मरकज चलाने वाले मौलाना लाट से जुड़े हैं। पुलिस इन सभी लोगों का मंगलवार को मेडिकल कराएगी।

तब्लीगी जमात की मुख्यधारा का मरकज दिल्ली के निजामुद्दीन में स्थित है। कोरोना वायरस संक्रमण फैलने में लापरवाही सामने आने के बाद मरकज के प्रमुख मौलाना शाद पर मुकदमा भी दर्ज किया जा चुका है।

कुछ समय पहले मौलाना शाद से अलग हुए मौलाना लाट ने तब्लीगी जमात का अपना अलग गुट बनाया हुआ है। उनका मरकज निजामुद्दीन से कुछ दूरी पर दिल्ली में ही स्थित है। अभी तक निजामुद्दीन मरकज से जुड़े जमातियों को ही प्रदेशभर में क्वारंटाइन किया गया है। डीजीपी अनिल रतूड़ी की ओर से मुकदमे की चेतावनी वाला वीडियो जारी होने के बाद मौलाना लाट के मरकज से जुड़े लोग भी सामने आए हैं।

admin