हाइकोर्ट की MDDA को फटकार, अवैध निर्माण सील कर कोर्ट में हो पेश

हाइकोर्ट की MDDA को फटकार, अवैध निर्माण सील कर कोर्ट में हो पेश
हाइकोर्ट की MDDA को फटकार, अवैध निर्माण सील कर कोर्ट में हो पेश
नैनीताल (अरुण शर्मा)। उत्तराखंड हाईकोर्ट ने देहरादून और मसूरी के बीच के कई छोटी छोटी पहाड़ियों को पूरी तरह काट कर
निर्माण के खिलाफ दायर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए प्राधिकरण उपाध्यक्ष एम.डी.डी.ए. MDDA
व नगर आयुक्त को देहरादून और मसूरी की तलहटी पर किये गए फूटहिल पालिसी के खिलाफ गैरकानूनी निर्माण को सील कर 27 मई तक विस्तृत रिपोर्ट कोर्ट में पेश करने को कहा है।
मामले की सुनवाई के लिए कोर्ट ने 27 मई की तिथि नियत की है।
सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता की ओर से फोटोग्राफ के माध्यम से उच्च न्यायलय को दिखाया गया
की कैसे पहाड़ी दर पहाड़ी को काट कर धड़ल्ले से असंतुलित विकास की आड़ में छोटी छोटी पहाड़ियों का किया जा रहा है।
आपको बता दे देहरादून निवासी रीनू पॉल की जनहित याचिका दायर कर कहा है देहरादून और मंसूरी के बीच पहाड़ियों को काटककर अंधाधुंध निर्माण किया जा रहा
जिससे पर्यावरण सहित शिवालिक की पहाड़ियों को खतरा पैदा हो गया है
याचिकाकर्ता का कहना है उत्तराखंड के निर्माण नीति में 2015 के संशोधन के प्रस्तर 4 के अनुसार, 30 डिग्री की अधिक ढल पर निर्माण की इजाज़त नहीं।

admin