पर्वतीय जनपदों के लिए नयी सुविधा करने जा रही है राज्य सरकार

पर्वतीय जनपदों के लिए नयी सुविधा करने जा रही है राज्य सरकार

देहरादून(ब्यूरो)। प्रदेश के आवास एवं शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने भागीरथी नदी घाटी विकास प्राधिकरण के सीमा निर्धारण एवं कार्य व्यवहार में आ रही कठिनाइयों के निराकरण के लिये प्रभारी सचिव आवास आशीष जोशी की अध्यक्षता में समिति गठित करने के निर्देश दिये है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विकास में विभिन्न प्राधिकरणों को अपनी भूमिका तय करनी होगी। राज्य सरकार द्वारा प्राधिकरणों का गठन जनता की सुविधा तथा क्षेत्रीय विकास को ध्यान में रखकर किया गया है। उन्होंने प्राधिकरणों को बोर्ड की बैठक नियमित रूप से आयोजित करने के निर्देश देते हुए आम जनता को विश्वास में लेकर योजनाओं के क्रियान्वयन पर ध्यान देने को कहा है।

खास खबर—दो महिलाओं की हत्या में चौंकाने वाला खुलासा,शराब,सेक्स और अपराध का कोकटेल ने दिया अंजाम

मंगलवार को सचिवालय में मुख्य सचिव सभागार में मसूरी-देहरादून विकास प्राधिकरण., हरिद्वार विकास प्राधिकरण, भागीरथी नदी घाटी विकास प्राधिकरण, साडा, झील विकास प्राधिकरण, जिला स्तरीय प्राधिकरणों आदि के अधिकारियों की बैठक को सम्बोधित करते हुए शहरी विकास मंत्री कौशिक ने कहा कि विभिन्न प्राधिकरणों की जो समस्याएं है, उनका निराकरण प्राथमिकता पर किया जाए। प्राधिकरणों के स्तर पर लिए जाने वाले निर्णयों, किए जाने वाले कार्यों से आम जनता को सुविधा हो इसका ध्यान रखा जाना चाहिए। जन सुविधाओं के व्यापक हित में प्राधिकरणों का गठन किया गया है इसका अधिकारी ध्यान रखें।

उन्होंने प्राधिकरणों से कार्य संचालन में उन्हें हो रही कठिनाइयों की जानकारी प्राप्त कर शासन स्तर पर उनके निराकरण के भी निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि देहरादून, हरिद्वार, ऊधम सिंह नगर के लिए वन टाइम सेटलमेंट की स्कीम आरम्भ कर दी गई है। इससे भवन स्वामियों को नक्शे पास कराने में सहूलियत होगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के पर्वतीय जनपदों के भ्रमण के दौरान भवनो के नक्शे पास कराने आदि की उनके समक्ष कई समस्याऐं रखी गई, इस सम्बन्ध में भी स्पष्टता जरूरी है, पर्वतीय क्षेत्रों के लोगों को इसमें सहुलियत हो, इस पर ध्यान दिया जाए अभी 200 मीटर तक के स्वयं के आवासीय भवन के लिये नक्शे पास कराने की जरूरत नहीं है, और न ही उन्हे इसके लिए कन्वर्जन चार्ज देने की आवश्यकता होगी। इस प्रकार की अन्य जो सुविधायें आम जनता को प्राधिकरणों द्वारा दी जा रही है, इसके लिये जनता को जागरूक करने की भी उन्होंने जरूरत बतायी। इस सम्बन्ध में समय-समय पर वर्कशाॅप आयोजित करने के भी उन्होंने निर्देश दिये है।

admin