हरिद्वार (विकास चौहान)। 2021 में होने वाला कुम्भ (Kumbh) दिव्यता और भव्यता में किसी भी तरह से कम नहीं होगा यह कहना है सुबे के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत का। उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत आज एक दिवसीय हरिद्वार दौरे पर रहे। हरिद्वार पहुंचकर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गणेश पूजा, बड़ा अखाड़ा उदासीन, जगत गुरु आश्रम और जयाराम आश्रम में जाकर कई साधु संतों के साथ भेंट कर उनका आशीर्वाद लिया तो हरीगिरी ने कुम्भ(Kumbh) क्षेत्र को और बढाये जाने की मांग की। सीएम ने हरिद्वार के कनखल स्थित दक्षेश्वर महादेव मंदिर, माया देवी मंदिर और भैरव बाबा मंदिर में पूजा अर्चना भी की। साथ ही मुख्यमंत्री ने जयराम आश्रम में आयोजित स्वर्गीय संत देवेंद्र स्वरूप ब्रह्मचारी की श्रद्धांजलि सभा में भी शिरकत की।

खास खबर :—बहुउद्दे​शीय शिविर की कवरेज कर रहे Media Persons को जान से मारने की धमकी

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने हरिद्वार के साधु संतो से कुम्भ मेले को दिव्य और भव्य बनाने के लिए कई विषयो पर चर्चा की। अखाडा परिषद् के महामंत्री हरिगिरि महाराज ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से हरिद्वार कुम्भ मेले क्षेत्र के विस्तार की मांग की। उन्होंने कहा कि कुम्भ मेले क्षेत्र का 30 किलोमीटर तक विस्तार होना चाहिए। वही जयाराम आश्रम के परमाध्यक्ष ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी ने सीएम से कुम्भ मेले के बजट से हरिद्वार में स्थाई पुल , हाईवे का चौड़ीकरण समेत हरिद्वार के धार्मिक स्वरुप को बरकरार रखते हुए विकास कार्य कराय जाने की मांग की।

वही मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने साधु संतो की सभी मांगों को ध्यान में रखते हुए मेले के विकास कार्य करवाने का आश्वासन दिया। सीएम ने कहा कि आज सभी संतो का पूरा आशीर्वाद उन्हें मिला है। हरिद्वार का कुम्भ मेला पिछले मेले से भी दिव्य भव्य और अभूतपूर्व होगा। इस बार कुम्भ मेले में रिकॉर्ड तोड़ श्रद्धालु आएंगे और इसके अनुसार ही वो व्यवस्था कर रहे है।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *