गंगा किनारे निर्माण का नया तरीका,आपको करना होगा केवल ये काम
 

हरिद्वार(कमल खड़का)। गंगा किनारे कुशा घाट पर नियमों की किस कदर ताक पर रखा जा रहा है इसकी एक बानगी उस समय देखने को मिली जब हाथी वाला पुल के समीप अवैध निर्माण किया जा रहा हैं। रात के अंधेरे में सामान पहुंचाया जाता है और दिन भर गंगा किनारे काम किया जाता हैं। हरिद्वार रूड़की विकास प्राधिकरण को गंगा किनारे होने वाले इस निर्माण की कोई खबर ही नहीं हैं। जानकारी के अनुसार रात के अंधेरे में सैकड़ो टन सरिया रेत बजरी दर्जनों मजदूरों द्वारा रात के वक्त निर्माण किया जा रहा है गंगा नदी से 200 मीटर के अंतर्गत नव निर्माण मै प्रतिबन्ध है उसके बावजूद निर्माण कर्ता बे खौफ निर्माण करा रहे है । आपको बता दें कि यह वहीं स्थान है जंहा पर गत दिनों डीएम दीपक रावत ने अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान 7 दुकाने सील की थी।

खास खबर—Neuro Navigation Technology से ट्यूमर का आॅपरेशन हुआ आसान

गंगा के किनारे निर्माण करने का अलग ही तरीका इजाद किया गया हैं। हरिद्वार में दुकान ऊपर चारो तरफ से पर्दा टांग कर दिन रात दर्जन भर से अधिक मजदूर काम में जुटे हुए हैं। विकास प्राधिकरण के आला अधिकारीयों को पर्दा डले होने की वजह से यह निर्माण शायद दिखायी नहीं दे रहा। आपको बता दें कि जंहा यह निर्माण हो रहा है वहां संपत्ति अहिल्या बाई होल्कर के विवाद से जुड़ा हुआ बताया जा रहा हैं।
यह नव निर्माण इधर हाथी वाला पुल से लेकर पीछे कुशावर्त घाट घनी आबादी वाले क्षेत्र मै हो रहा है कई महीनों से चल रहा है काम निर्माण मै लगने वाला माल रात को हाथी वाला पुल के पास से ले जाया जाता है कहने रोकने वाला कोइ नहीं है

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *