टिहरी लेक महोत्सव पर टिहरी को सीएम त्रिवेंद्र ने दी बड़ी सौगात

टिहरी लेक महोत्सव पर टिहरी को सीएम त्रिवेंद्र ने दी बड़ी सौगात

टिहरी(अरुण शर्मा)। टिहरी लेक महोत्सव की हुई रंगारंग शुरुवात।

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ओर के कैबिनेट मंत्रियों की मौजूदगी में हुई शुरुवात।

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस मौके पर टिहरी को बहुत सौगात दी।

टिहरी लेक महोत्सव
टिहरी लेक महोत्सव

उन्होंने टिहरी में अंतरराष्ट्रीय वैदिक विद्यायल स्थापित किये जाने की घोषणा भी की।

उन्होंने 500 प्रशिक्षणार्थियों को स्कूबा डाइविंग का प्रशिक्षण देने की भी घोषणा की।

इसके अलावा टिहरी झील किनारे लाइट एण्ड साउण्ड शो की होगी शुरुआत

खास खबर-बसंत पंचमी पर इन जगहों पर कुछ अलग अंदाज में मनाया गया उत्सव

उन्होंने हर बंसत पंचमी पर ही टिहरी लेक फेस्टिवल मनाए जाने की भी घोषणा की।

टिहरी लेक फेस्टिवल की शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि टिहरी में भागीरथी के तट पर अंतरराष्ट्रीय वैदिक विद्यालय की स्थापना की जाएगी।

जहां विद्यार्थियों को संस्कृत भाषा के साथ ही हिंदी और अंग्रेजी का भी ज्ञान दिया जाएगा।

इससे पूरे विश्व के लोग भारतीय संस्कृति का ज्ञान हासिल कर सकेंगे।

यहां 500 प्रशिक्षणार्थियों को स्कूबा डाइविंग के प्रशिक्षण

टिहरी लेक महोत्सव
टिहरी लेक महोत्सव में नौकायन

की व्यवस्था की जाएगी।

लाइट और साउंड शो की शुरुआत की जाएगी। इस अवसर पर देवडोलियों का प्रदर्शन आकर्षण का मुख्य केन्द्र रहा।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने जनमानस को बसंत पंचमी पर्व की बधाई देते हुए कहा कि टिहरी में उत्तराखंड का भविष्य है।

पहले टिहरी लेक फेस्टिवल किस दिन मनाया जाए इसे लेकर कोई तारीख तय नहीं थी परंतु अब हमने गजट नोटिफिकेशन जारी कर दिया है कि टिहरी लेक फेस्टिवल अब से हर वर्ष बसंत पंचमी को ही होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड के चमोली में आई प्राकृतिक आपदा के कारण

इस बार महोत्सव को लेकर असमंजस की स्थिति थी परंतु हमने निर्णय लिया कि हम आपदा से भी लड़ेंगे और आगे भी बढ़ेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रताप नगर के निवासियों ने काफी दिक्कतें झेली हैं।

आज सरकार ने उन्हें मोटरेबल डोबरा चांठी पुल दिया है जिससे उनकी परेशानी दूर हुई।

साथ ही पर्यटकों और उत्तर काशी के निवासियों को भी सुविधा मिली है।

मसूरी में कारोबार और पर्यटन में सैचुरेशन आ गया है। टिहरी में पर्यटक कुछ दिन रुके और यहां का लुत्फ उठाएं, इस कल्पना के साथ हम टिहरी क्षेत्र का विकास कर रहे हैं।

इसके लिए 1210 करोड रुपए से नई टिहरी को विकसित करने का कार्य चल रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में साहसिक खेलों को बढ़ावा देने के लिए एडवेंचर विंग की स्थापना की गई है।

जिसका असर राज्य में देखने को मिल रहा है।

आज भीमताल, अल्मोड़ा, सतपुली और टिहरी में साहसिक गतिविधियों का सफलतापूर्वक आयोजन हो रहा है।

हम टिहरी का इस तरह विकास कर रहे हैं कि लोग पलायन न करें और उन्हें यहीं पर रोजगार मिले।

हमें विश्वास है कि पर्यटन का हब यदि कोई राज्य होगा तो वह उत्तराखंड ही होगा।

admin

One thought on “टिहरी लेक महोत्सव पर टिहरी को सीएम त्रिवेंद्र ने दी बड़ी सौगात

Comments are closed.