13 साल की बच्ची को कोरोना,पिता-बहन के साथ दिल्ली से आई थी हरिद्वार

13 साल की बच्ची को कोरोना,पिता-बहन के साथ दिल्ली से आई थी हरिद्वार

सुल्तानपुर(नाथीराम कश्यप)। हरिद्वार के टांडा भागमल गांव में तेरह वर्षीय बच्ची में कोरोना पॉजीटिव होने का मामला सामने आया है।

बच्ची अपने पिता व बड़ी बहन के साथ दिल्ली से वापस लौटी थी उसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उनका सैंपल लेकर तीनों को घर पर ही कोरनटाइन कर दिया था।

बच्ची में कोरोना पॉजिटिव होने का मामला सामने आते ही स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उसे हरिद्वार अस्पताल में भर्ती करा दिया है।

दूसरे प्रदेशों से वापस आने वालों को लेकर स्वस्थ्य विभाग बेहद सावधानी बरत रहा है। सुुलतानपुर क्षेत्र के टांडा भागमल गांव निवासी एक परिवार दिल्ली में रहकर काम करता है।

27 मई को बच्ची अपने पिता और बहन के साथ दिल्ली से बस द्वारा हरिद्वार पहुंची थी।बस में 23 लोग सवार थे।

उसके बाद वह जगजीतपुर के एक बैंकट हॉल में आकर रुके थे।उसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 27 मई को उन्हें भारत माता मंदिर के पास एक आश्रम में कोरंटिन कर दिया था।

स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना पॉजिटिव बच्ची
उसकी बहन तथा पिता का सैंपल लिया था।लेकिन बाद में 6 जून को वह अपने घर टांडा भागमल में वापस चले आए थे।

तब से वह अपने घर पर ही कोरंटिन थी। इसके बाद 14 जून को कोरोना पॉजिटिव बच्ची का पिता दिल्ली वापस गुरुद्वारे में लौट गया था।

जहां पर वह काम करता था।लेकिन मंगलवार को आई रिपोर्ट में बच्ची में कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई है।

इसके बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा अधीक्षक डॉ अनिल वर्मा ने गांव पहुंचकर बच्ची को इलाज के लिए हरिद्वार के जाहनवी डैल होटल में भर्ती करा दिया।

उन्होंने बताया कि बच्ची के संपर्क में रहे परिवार के अन्य लोगों के सैंपल लेकर भी जांच के लिए भेजे जाएंगे।

उधर हरिद्वार एसडीएम कुसुम चौहान ने बताया कि टांडा भागमल गांव में जहां पर बच्ची का घर है उसके 200 मीटर के एरिया को पाबंद कर दिया गया है।

जिसमें लगभग दो सौ लोग अपने घरों में कैद हो गए हैं। उन्हें बताया कि इसी के साथ ही उन्हे जरूरी सुविधा उपलब्ध कराने के लिए टीम गठित कर दी गई है तथा वही गांव के बाहर हेल्प डेस्क भी बना दी गई है।

admin