हरिद्वार ब्यूरो। जहाँ अंग्रजी दवाइयां जवाब दे जाती है वहाँ से इलेक्ट्रो होम्योपैथी (Electro Homeopathy) दवाइयों से इलाज संभव है। इस चिकित्सा पद्धति के द्वारा कैंसर, शुगर, और दिल की बीमारी का सफल इलाज संभव है। इलेक्ट्रो होम्योपैथी (Electro Homeopathy) चिकित्सा के जनक के जन्मदिवस के अवसर पर इलेक्ट्रो होम्योपैथी मेडिकल एसोसिएशन की स्मारिका पुस्तक का विमोचन किया गया।

​खास खबर ….500 करोड़ के इस घोटाले में राज्य सरकार को बड़ा झटका

आज इलेक्ट्रोहोम्योपैथी (Electro Homeopathy) के जनक काउंट सीजर मैटी का 210 वा जन्मदिन बड़ी धूमधाम के साथ मनाया गया। हरिद्वार के होटल में इलेक्ट्रोहोम्योपथी मेडिकल एसोसिएशन द्वारा आयोजित कार्यक्रम में उत्तराखंड राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती सुशीला बलूनी , झारखण्ड बायोम फार्मा के डायरेक्टर डॉ नीलेश थावरे समेत इलेक्ट्रोहोम्योपथी जगत के कई डॉक्टर शामिल हुए। इस अवसर पर इलेक्ट्रोहोम्योपैथी स्मारिका पुस्तक का विमोचन किया गया साथ ही इलेक्ट्रोहोम्योपथी क्षेत्र में जटिल रोगों का इलाज करने वाले डॉक्टरो को भी सम्मानित किया गया। दौरान इलेक्ट्रोहोम्योपैथी मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ केपीएस चौहान ने कहा कि देशभर में इलेक्ट्रोहोम्योपैथी के जनक काउंट सीजर मैटी का जन्मदिन धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है। वही झारखण्ड से आये बायोम फार्मा के डारेक्टर नीलेश थावरे ने कहा कि जहाँ अंग्रेजी दवाइयों का प्रभाव केवल बीमारी को जड़ से खत्म नहीं करता और यही कारण है कि आज इलेक्ट्रोहोम्योपैथी कारगर सिद्ध हो रही है इस चिकित्सा पढत्ती से कैंसर , शुगर जैसी गंभीर बीमारियों का इलाज बलही संभव है। इस अवसर पर डॉ मुकेश चौहान, डॉ मीनाक्षी, डॉ भूरा खान, डॉ अशोक कुशवाह एवम् डॉ आफाक अली मौजूद रहें।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *