हरिद्वार( विकास चौहान)। सिडकुल स्थित सत्यम ऑटो (Satyam Auto) कॉर्पोरेशन, लिमिटेड से निकाले गए श्रमिक ने हरिद्वार एक दिवसीय भ्रमण पर पहुंचे हरिद्वार के सांसद, केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक शांतिकुंज में श्रमिक नेता संजय चोपड़ा की अगुवाई में सामूहिक रूप से सत्यम ऑटो (Satyam Auto) नौकरी-बहाली संघर्ष समिति के अध्यक्ष महिपाल सिंह सामूहिक रूप से केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक को अपनी समस्याओं के निदान के लिए ज्ञापन सौंपा।

खास खबर—ऋषिकेश Police ने दो दिन में काटा 31 का चालान और सीज किए 31 वाहन

ज्ञापन में अवगत कराया 17-04-2017 को सत्यम ऑटो(Satyam Auto) प्रबंधन द्वारा बिना कारण के लगभग 300 श्रमिकों को फैक्ट्री का गेट बंद करके बाहर निकाल दिया गया लगभग 2 वर्ष से श्रमिक कानूनों की गुहार को लेकर कई बार शासन-प्रशासन को ज्ञापन के माध्यम से अवगत करा चुके हैं ।

इस अवसर पर श्रमिक नेता संजय चोपड़ा ने कहा सत्यम ऑटो कॉम्पोनेन्ट से निकाले गए श्रमिकों की न्याय संगत मांगों के लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे हरिद्वार के सांसद केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक से श्रमिकों को काफी उम्मीदें हैं श्रमिकों के प्रार्थना पत्र पर केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री द्वारा उचित कार्रवाई के साथ से सम्मान सत्यम ऑटो कॉम्पोनेन्ट द्वारा श्रमिक कानूनों के तहत पुनः काम पर वापस लिया जाना चाहिए।

इस अवसर पर सत्यम ऑटो नौकरी- बहाली संघर्ष समिति के अध्यक्ष महिपाल सिंह ने कहा सत्यम ऑटो कॉम्पोनेन्ट प्रबंधन द्वारा राज्य के श्रमिक कानूनों को दरकिनार कर तमाम श्रमिकों के परिवार व उनके रोजगार से वंचित कर उनके साथ घोर अन्याय किया है उन्होंने कहा यदि शीघ्र ही सत्यम ऑटो प्रबंधन द्वारा अपने अधिक रवैया पर परिवर्तन नहीं किया तो सभी श्रमिक कर्मचारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के यहां गुहार लगाएंगे
मौके पर ज्ञापन के दौरान हरिद्वार के सांसद केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने सत्यम ऑटो कॉम्पोनेन्ट से निकाले गए सभी कर्मचारियों को आश्वासित करते हुए कहा इस पूरे प्रकरण की जांच करा कर श्रमिक कर्मचारियों को न्याय दिलाने के लिए प्रयास किए जाएंगे।

हरिद्वार पहुंचे मानव संसाधन मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक को अपनी समस्याओं के निदान के लिए ज्ञापन देने पहुंचे श्रमिकों में ओम प्रकाश, खेम सिंह, बलवंत सिंह रावत, राकेश सिंह कंडारी, सूरज नेगी, कृपाल सिंह रावत, राजेंद्र सिंह भंडारी, चंद्रेश कांसवाल, वीरेंद्र सिंह, दिनेश राणा, रमेश रतूड़ी, छोटे लाल यादव, संजीव अरोड़ा, हरिश नेगी ठाकुर, अरुण कुमार, राजकुमार, रविंद्र बसेरा, भूपेंद्र राजपूत आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *