हरिद्वार (आश्रुति)। बीते गुरुवार हरिद्वार में जीएसटी (GST) विभाग की टीम द्वारा की गई छापेमारी के विरोध में ट्रेवल व्यापारी उतर आये है। टूर एंड ट्रेवल एसोसिएशन के बैनर तले हरिद्वार के एक होटल में बैठक कर ट्रेवल कारोबारियों ने जीएसटी (GST) विभाग पर उत्पीड़न और बदनाम करने का आरोप लगाया। साथ ही जीएसटी (GST) विभाग के अधिकारियों से ये माँग की है कि इस तरह की कार्यवाही से पहले जीएसटी (GST) के नियम और कानून की परख के लिए उनके साथ कार्यशाला का आयोजन किया जाय।

खास खबर:— Drug मजा नहीं सजा है , युवा पीढ़ी अपनी ऊर्जा सकारात्मक कार्यो में खर्च करें:— डीजी लॉ एंड आर्डर

दरअसल बीते गुरुवार जीएसटी की टीम द्वारा हरिद्वार के कई ट्रेवल एजेंसियों पर छापेमारी की गई। ट्रेवल व्यवसायियों ने इस छापेमारी का विरोध किया है। टूर एंड ट्रेवल एसोसिएशन के अध्यक्ष उमेश पालीवाल ने कहा कि जिस तरह बिना संगठन को बताए जो एकतरफा छापेमारी की गई वो ट्रेवल व्यवसायियों का उत्पीड़न और उनके व्यवसाय को बेइज्जत करने का काम किया गया है, जिसे वो बिल्कुल भी बर्दाश्त नही करेंगे। टूर एंड ट्रेवल असोसिएशन के संरक्षक संजय चोपड़ा ने कहा कि ट्रेवल व्यवसायियों को जीएसटी के मानकों की की सटीक जानकारी नही है। उन्होंने माँग की है छापेमारी से पहले जागरूकता की जरूरत और जीएसटी विभाग के अधिकारियों को उनके साथ मिलकर कार्यशाला करनी चाहिए, ताकि जीएसटी के नियम कानूनों को परखा जा सके।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *