हरिद्वार (विकास चौहान)। रेडी पटरी के (स्ट्रीट वेंडर्स) लघु व्यापारियों को हरिद्वार नगर निगम (Municipal Corporation) क्षेत्र में राज्य फेरी नीति नियमावली के तहत वेंडिंग जोन, होकिंग जोन के रूप में स्थापित किए जाने को लेकर नगर निगम (Municipal Corporation) प्रशासन द्वारा नगर निगम सभागार में फेरी समिति की बैठक आहूत की गई।

इस अवसर पर नगर आयुक्त उदय सिंह राणा ने कहा राज्य सरकार के संरक्षण में राज्य फेरी नीति नियमावली को हरिद्वार नगर निगम क्षेत्र में शीघ्र ही क्रियान्वयन किया जाएगा ताकि रेडी पटरी वाले व्यवस्थित होकर अपना स्वरोजगार कर सकें और धर्मनगरी हरिद्वार में साफ-सुथरी व्यवस्था सभी के सहयोग से बनाई जा सके उन्होंने यह भी कहा पूर्व की सर्वे रिपोर्ट के आधार पर अभी लगभग 500 से 600 रेडी पटरी के लघु व्यापारियों का पंजीकरण किया जा चुका है वेंडिंग जोन के निरक्षण के लिए कमेटी गठित कर दी गई है कमेटी की रिपोर्ट के उपरांत फेरी समिति की बैठक बुलाकर राज्य फेरी नीति नियमावली को युद्ध स्तर पर हरिद्वार नगर निगम क्षेत्र में लागू किया जाएगा।

इस अवसर पर लघु व्यापारियों का प्रतिनिधित्व करते हुए लघु व्यापार एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष संजय चोपड़ा ने कहा उत्तर प्रदेश, बिहार, दिल्ली, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड (देहरादून) में नेशनल एसोसिएशन ऑफ स्ट्रीट वेंडर ऑफ इंडिया (नासवी) के सहयोग से स्मार्ट सिटी मॉडल एक्ट तैयार किया गया है जिसके आधार पर देहरादून राजधानी में स्मार्ट वेंडिंग जोन बनाए जा चुके हैं उसी की तर्ज पर ज्वालापुर, पुल जटवाड़ा, भगत सिंह चौक, ईद-का-रोड सराय इत्यादि क्षेत्रों में फुटकर सब्जी मार्केट वेंडिंग जोन के रूप में मॉडल-लाइज बनाए जाएं ताकि धर्मनगरी हरिद्वार में जगह-जगह भटक रहे रेडी पटरी वाले अपना कारोबार एक चयनित स्थल पर कर सकें।

नगर निगम सभागार में चली फेरी समिति की बैठक सम्मिलित हुए सीओ अभय सिंह, विकास प्राधिकरण जेई सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों सहित लघु व्यापारियों में फूल सिंह, भूपेंद्र राजपूत, जय भगवान, तस्लीम अहमद, धर्मपाल कश्यप, सतीश प्रजापति, हंसराज अरोड़ा, जय सिंह बिष्ट आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *