जल्द ही जनपद में Slaughter House नहीं बना तो होगा उग्र आंदोलन

जल्द ही जनपद में Slaughter House नहीं बना तो होगा उग्र आंदोलन

हरिद्वार (विकास चौहान)। खुले में पशुवध पर हाइकोर्ट के आदेश के बाद हरिद्वार जनपद में मीट कारोबार प्रभावित हुआ है। कारोबार ठप होने से नाराज हरिद्वार के मीट कारोबारियों ने हरिद्वार नगर निगम प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और मुख्य नगर आयुक्त को ज्ञापन सौंप जल्द ही स्लाटर हाउस (slaughter house) निर्माण कराने की माँग की। इस दौरान मीट कारोबारियों के साथ यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओ ने भी समर्थन दिया।

खास खबर :—विश्व Eye दिवस के अवसर पर नेत्र दान व Eye परीक्षण शिविर का आयोजन

मीट कारोबारियों ने साल 2012 के हाइकोर्ट का आदेश का हवाला देते हुए कहा कि इस आदेश के अनुसार हाइकोर्ट ने 2012 में नगर निगम प्रशासन को हर गाँव हर पालिका में स्लॉटर हाउस (slaughter house) निर्माण कराने का आदेश दिया था, निगम प्रशासन की लापरवाही के चलते आजतक हरिद्वार जनपद में एक भी स्लाटर हाउस (slaughter house) नही बना है आज जिसका खामियाजा उन्हें भुगतान पड़ रहा है। कहा कि आज मीट कारोबारी रोजगार ठप होने से आर्थिक मंदी झेल रहे है। उन्होंने चेतावनी दी है यदि जल्द ही जनपद में स्लाटर हाउस निर्माण नही कराया गया तो प्रशासन के खिलाफ वे उग्र आंदोलन तक करना पड़ा तो करेंगे। इस दौरान वहाब कुरैशी, मीट कारोबारी, तंजीम कुरैशी, मीट कारोबारी, रवि बहादुर, नेता , यूथ कांग्रेस, कांग्रेस नेता नईम कुरैशी आदि मौजूद रहे।

admin